उत्साह के साथ आज "नवरोज़" मनाया गया


  • उत्साह के साथ आज
    उत्साह के साथ आज "नवरोज़" मनाया गया
    1 of 5 Photos
  • उत्साह के साथ आज
    उत्साह के साथ आज "नवरोज़" मनाया गया
    1 of 5 Photos
  • उत्साह के साथ आज
    उत्साह के साथ आज "नवरोज़" मनाया गया
    1 of 5 Photos
  • उत्साह के साथ आज
    उत्साह के साथ आज "नवरोज़" मनाया गया
    1 of 5 Photos
  • उत्साह के साथ आज
    उत्साह के साथ आज "नवरोज़" मनाया गया
    1 of 5 Photos

नागपुर : नवरोज़ यानी पारसी समुदाय का नया साल आज देश का पारसी समुदाय अपना नववर्ष "नवरोज़" मना रहा है आज नागपुर के टाटा पारसी स्कूल के पास स्थित पाररी कॉलोनी में सुबह बड़े ही उत्साह के साथ  "नवरोज़" मनाया गया, नवरोज़ के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी पारसी समुदाय को उनके नववर्ष पर देश की ओर से बधाई दी।  नवरोज़ त्योहार नए के आगमन और पुराने के जाने का प्रतीक है। समुदाय इस दिन सद्भाव का प्रसार करते हैं और अपने देश को एकजुट, सुरक्षित और समृद्ध बनाने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं, नवरोज़ बंधुत्व और करुणा की भावना प्रतिबिंबित करता है, समृद्धि और खुशहाली प्रदान करता है I

पारसी समुदाय के लोगो ने सभी धर्म के लोगो को नवरोज़ मुबारक की बधाई दी । उम्मीद करते हैं कि आने वाला साल ढेरों खुशियां, सफलता और अच्छा स्वास्थ्य लेकर आये, पारसी समुदाय के लिए नववर्ष नवरोज़ यानी नया दिन आस्था और उत्साह का संगम है। नवरोज़, फारस के राजा जमशेद की याद में मनाते हैं जिन्होंने पारसी कैलेंडर की स्थापना की थी। इस दिन पारसी परिवार के लोग नए कपड़े पहनकर अपने उपासना स्थल फायर टेंपल जाते हैं और प्रार्थना के बाद एक दूसरे को नए साल की मुबारकबाद देते हैं। साथ ही इस दिन घर की साफ-सफाई कर घर के बाहर रंगोली बनाई जाती है और कई तरह के पकवान भी बनते हैं। 

पारसी समुदाय देश की सबसे कम आबादी वाले अल्पसंख्यक समुदायों में से एक है। लेकिन नवरोज़ जैसे त्योहार के माध्यम से इस समुदाय ने आज भी अपनी परंपराओं को बनाए रखा है। 



add like button Service und Garantie

Leave Your Comments

Other News Today