महाराजबाग के प्राणीयो के लिए हीटर की व्यवस्था


  • महाराजबाग के प्राणीयो के लिए हीटर की व्यवस्था
    महाराजबाग के प्राणीयो के लिए हीटर की व्यवस्था
    1 of 1 Photos

नागपुर : दिसंबर ख़त्म होकर अब नए साल की शुरुवात हो रही है दिसंबर की बढ़ती सर्दी और तापमान में भारी गिरावट के चलते नागपुर के महाराजबाग प्राणी संग्रहालय व्यवस्थापन ने कमर कस ली है। जानवरों को सर्दी से बचाने के लिए सभी जरूरी कदम उठाये गए हैं । इस मौसम में उनके खाने-पीने से लेकर उनके रहने की व्यवस्था पर विशेष ध्यान रखा जा रहा है, ताकि वे ठंड लगने से बीमार न हों। पिछले कुछ दिनों से तापमान में भारी गिरावट के चलते नागपुर के महाराजबाग प्राणी संग्रहालय में जानवरो को हीटर से गर्मी दी जा रही है I 

इसमें प्रमुख बाघों और तेंदुए के पिजरो के सामने हीटर की व्यवस्था की गई है I  अधिक सर्दी होने पर चिड़ियाघर प्रशासन की ओर से पिंजरों को मोठे कपडे से ढकने के पूरे इंतजाम किए जा चुके हैं। प्राणी संग्रहालय के प्रमुख डॉ सुनील बावसकर ने बताया कि इस मौसम में जानवरों को सर्दी से बचाना बड़ी चुनौती होती है। इसके लिए समय रहते सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं ताकि सभी प्राणी स्वस्थ रहे सके।

सर्दी के मौसम में मांसाहारी जानवरों के खाने-पीने पर विशेष ध्यान रखा जाता है। वैसे आमतौर पर बाघ रोजाना तकरीबन 10 किलो मीट खाता है, लेकिन सर्दी में उसे दो किलो अतिरिक्त मीट खाने के लिए दिया जाता है। इससे उन्हें पर्याप्त पोषण और संक्रमण से लड़ने में मदद मिलती है। 



add like button Service und Garantie

Leave Your Comments

Other News Today