अमरावती महामार्ग पर बाघ की दुर्घटना में मौत


  • अमरावती महामार्ग पर बाघ की दुर्घटना में मौत
    अमरावती महामार्ग पर बाघ की दुर्घटना में मौत
    1 of 1 Photos

नागपुर : नागपुर अमरावती महामार्ग पर बाजारगांव के पास रोड पार कर रहे एक बाघ की दुर्घटना में मौत हो गई । शुक्रवार की शाम अमरावती महामार्ग पर कोंढाली से करीबन 17 किलोमीटर दूर बाजार गांव से नागार्जुन कॉलेज के बीच ये हादसा हुआ। दुर्घटना के तुरंत बाद नेशनल हाईवे क्र 6 पर वाहनों का जाम लग गया जिससे लोगो को परेशानी का सामना करना पड़ा जिसके चलते पुलिस और वन विभाग की टीम को मशक्कत करनी पड़ी । बाघ की पहचान ऊपरी तौर पर बोर टाइगर रिजर्व के बीटीआर टी-2 की जा रही है, जिसकी उम्र करीब 7 से 8 साल की बताई जा रही है। इसका उपनाम बाजीराव बताया जा रहा है। हालांकि इसकी फिलहाल अाधिकारिक रूप से पुष्टि नहीं हुई है। यह क्षेत्र कलमेश्वर फॉरेस्ट प्रादेशिक वन क्षेत्र के तहत आता है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार दो जंगलों को जोड़ने वाले यह महामार्ग वन्यजीवों के लिए कई वर्षो से बाधा बना हुआ है। बाघ शुक्रवार शाम- 6.45 बजे के करीब  कातलाबोड़ी संरक्षित वन को पार कर कावड़ीमेट जंगल से होते हुए महामार्ग के पार बाजारगांव की ओर जा रहा था। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक ट्रक ने जबरदस्त टक्कर मारी और ट्रक चालाक फरार हो गया । इस हाईवे को पार करना वन्यजीवों के लिए जानलेवा साबित होता है, बीते 23 नवंबर को भी इसी महामार्ग पर एक वाहन की टक्कर से तेंदुए की मौत हो गई थी। फिलहाल मौत हुवे बाघ के अधिकारिक पहचान की पुष्टि विभाग की ओर से की जानी है। पोस्टमार्टम नागपुर में किया जाएगा । दुर्घटना होने के पश्चात घटनास्थल पर उपवनसंरक्षक जी. मल्लिकार्जुन, मानद वन्यजीव रक्षक कुंदन हाते, वन परिक्षेत्र अधिकारी कोंढाली एफ. एम. आजमी प्रमुखता व अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे । 



add like button Service und Garantie

Leave Your Comments

Other News Today