अपनी मांग को लेकर आदिमो का विशाल मोर्चा पहुंचा विधान भवन


  • अपनी मांग को लेकर आदिमो का विशाल मोर्चा पहुंचा विधान भवन
    अपनी मांग को लेकर आदिमो का विशाल मोर्चा पहुंचा विधान भवन
    1 of 2 Photos
  • अपनी मांग को लेकर आदिमो का विशाल मोर्चा पहुंचा विधान भवन
    अपनी मांग को लेकर आदिमो का विशाल मोर्चा पहुंचा विधान भवन
    1 of 2 Photos

नागपुर : कई वर्षो से सरकार के सामने अपनी मांग रखने के बावजूद उनकी मांगो को अनदेखी किए जाने से राष्ट्रिय आदिम कृति समिति द्व्रारा आज सभी समाज ने मिलकर शीतसत्र के चलते संयुक्त मोर्चा निकाला । आदिवासी समाज आरक्षण का लाभ देने की मांग को लेकर हलबा, आदिम समेत अन्य समाज का संयुक्त माेर्चा दोपहर को विधानभवन पर पहुंचा । हलबा समाज के नेता व भाजपा विधायक विकास कुंभारे ने इस मोर्चे का नेतृत्व किया, मोर्चे में 50 हजार से अधिक लोग शामिल हुवे थे कुंभारे के अनुसार 50 वर्ष से विविध समाज पर राज्य में अन्याय हो रहा है। उनकी समस्याओं का निराकरण अभी तक नहीं हो पाया है।

मोर्चे की शुरुआत गोलीबार चौक से दोपहर 12 बजे की गई, चिटणीस पार्क मैदान में कार्यकर्ता एकत्रित हुवे थे जिसके बाद मोर्चा विधानभवन की ओर आने लगा । मोर्चे की विशालता और आक्रोश देख मोर्चे को टेकड़ी रोड पर रोका गया, जिसके लिए पुलिस विभाग ने भारी बंदोबस्त कर रखा था I  इस विशाल मोर्चे में विदर्भ से हलबा, हलबी, माना, गोवारी, कोली, ठाकुर, ठाकर, धोबा, मन्नेवार, मन्नेरवारलू समेत 13 अन्यायग्रस्त समाज के प्रतिनिधि शामिल हुवे थे। राष्ट्रिय आदिम कृति समिति का आरोप है की, ये समाज आदिवासी होने के बाद भी इन्हें जाति प्रमाणपत्र व जाति वैधता प्रमाणपत्र नहीं दिया जाता है। 50 हजार कर्मचारियों पर जाति प्रमाणपत्र का संकट खड़ा किया गया है। फडणवीस सरकार ने दो बार समाज के साथ सकारात्मक चर्चा की है। इन समाज के मांगों के अनुरूप अमल करने के आदेश दिए हैं, लेकिन समाज की समस्याएं कायम हैं। मोर्चे में मुख्य राष्ट्रीय आदिम कृति समिति सदस्य विश्वनाथ आसेई, डीबी नादंकर, एड. नंदा पराते, नगरसेवक प्रवीण भिसीकर व अन्य नगरसेवक जनप्रतिनिधि उपस्थित थे I 



add like button Service und Garantie

Leave Your Comments

Other News Today