शहर में सीजर कर गाय की बचाई जान, बछड़ा था मृत


  • शहर में सीजर कर गाय की बचाई जान, बछड़ा था मृत
    शहर में सीजर कर गाय की बचाई जान, बछड़ा था मृत
    1 of 1 Photos

नागपुर : शहर में बुधवार को समय की सतर्रकता से एक गाय को नया जीवनदान दिया गया, बात तब की है जब गाय के पेट में बछड़ा था जो की मृत हो चुका था । समय पर यदी ऑपरेशन कर बछड़ा बाहर नहीं निकाला जाता। तो उसकी जान पर बन सकती थी। अलंकार टॉकिज स्थित वेटरनरी कॉलेज में गाय का सीजर किया गया। डॉक्टर ने ऑपरेशन कर बछड़ा बहार निकाला, जो पेट में ही मर चुका था। डॉ. शैलेंद्र शितल, डॉ. आनंद नेवारे और डॉ. आनंद सिरसाट ने बड़ी सतर्कता से जोखिमभरा ऑपरेशन किया। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार गाय के मालिक बुट्टीबोरी के आशिष हांडे हैं। सुबह जब गाय को पेन होने लगा, गाय की हालत बिगड़ रही थी। लिहाजा बगैर वक्त गंवाएं आशिष हांडे ने वेटरनरी अस्पताल से संपर्क किया। बछड़ा पेट में मरा होने की वजह से उसे वाहन पर अस्पताल लाया गया। सुबह 9 बजे के करीब वेटरनरी अस्पताल में गाय की डॉक्टरों ने नार्मल डिलेवरी करने की कोशिश की, किन्तु बछड़े की मौत के कारण डॉक्टरों को काफी कठिनाई का सामना करना पड़ा। इसके बाद जब डॉक्टरों को दूसरा रास्ता नहीं सूझा, तो मजबूरन सीजर कर बछड़ा निकालना पड़ा। डॉक्टरों के मुताबिक यदी सिजर नहीं किया जाता, तो गाय की जान जा सकती थी। गाय की जान को खतरा था। आखिर वेटरनरी डॉक्टर ने सीजर कर गाय की जान बचाई। गाय को वाहन में लिटाया गया था। सभी जरूरत का सामान रखकर वहीं ऑपरेशन किया गया। ताकि जरा सी चूक उसके जीवन पर भारी न पड़ सके। बछड़ा पेट में मरा होने की वजह से सीजर कर उसे निकाल लिया गया। 



add like button Service und Garantie

Leave Your Comments

Other News Today